homeopathy hub

How to Stay Healthy

बिना दवाई के स्वस्थ कैसे रहे ? 

आज हमारे देश में लगभग हर व्यक्ति किसी न किसी रोग से ग्रसित है और चकित्सा के हालात हम सब जानते है तो ऐसे में अगर हम कुछ नियमो का पालन करें तो बीमार होने से बचा जा सकता है |आज से लगभग तीन हज़ार साल पहेले एक ऋषि हुए है आचार्य वाग्भट जी जिन्होंने खान पान की आदतों और रहें सहन के तरीको से होने वाली बीमारी एवं उनके घरेलु उपचार पर लगभग पचास हज़ार सूत्र लिखे है और ये सूत्र उसी तरह से लिखे गए है जैसे आज Clinical Trial कर के दवाइयों की किताब लिखी जाती है अर्थात सभी सूत्रों सेकड़ो बार परीक्षण किया गया है |

इन्ही सूत्रों को आज के वाग्भट स्वर्गीय राजीव दीक्षित जी ने आधुनिक जीवन के अनुसार रूपांतरित कर के बताया है कि कैसे स्वस्थ रहा जा सकता है |उन्ही में से कुछ सूत्रों का पालन कर के उम्र भर कई घातक रोगों से बचा जा सकता है |

  • खाना खाने के डेढ़ घंटे बाद ही पानी पिए |
  • दोपहर का खाना सुबह के खाने से कम हो और रात का सबसे कम |
  • पानी हमेशा बैठ कर एवं घूँट घूँट कर पियें |
  • खाने को चबा चबा कर आराम से खाएं |
  • बहुत ठंडा पानी न पियें |
  • रात को सोते समय सर पूर्व या दक्षिण की तरफ कर के लेटें |
  • दोपहर के खाने के बाद 45 मिनट की विश्रांति अवश्य ले |
  • रात के खाने के बाद लगभग एक किलोमीटर आराम से टहलें |
  • चाय का सेवन एक दम बंद कर दे |
  • रात को दही का सेवन नहीं करना है |
  • उड़द के साथ दही नहीं मतलब No दही बड़ा |
  • दूध के साथ नमक का सेवन नहीं करना है |
  • फ्रिज में रखा कोई भी सामान ज़हर के समान है |
  • एल्युमीनियम के बर्तन का उपयोग न करें |
  • गर्म खाने के बाद ठंडी आइसक्रीम मतलब हृदय घात को न्योता देना है |
  • खड़े होकर पानी पीना मतलब घुटने जवानी में ही जवाब दे देंगे | 

उपरोक्त सभी नियमो का पालन करने से आप सेकड़ो रोगों से बच सकते है अपितु रुग्ण अवस्था में रोग जल्दी से ठीक हो जायेगा |

Comments

  • Reply: