homeopathy hub

Home Remedies for All Type of Fever

किसी भी प्रकार के बुखार (Fever) की रामबाण दवा |

Ayurvedic Medicine for any Type of Fever .
Ayurvedic Treatment of All fever and Hepatitis A,B, C 

Ayurvedic medicine for dengue
Ayurvedic medicine for chikungunya
Ayurvedic medicine for Typhoid 
Ayurvedic medicine for malaria  
Ayurvedic medicine for japanese encephalitis

 

जब  किसी को बुखार होता है तब सबसे पहले हम पेरासिटामोल और एंटीबायोटिक दवाओ से बुखार को ठीक करने का प्रयास करते है। इन दवाओं से बुखार में तो एक दम आराम हो जाता है लेकिन क्या आप जानते है ये दवाएं आपके लिवर क्या हाल कर डालती है कई दिन तक भूख नहीं लगती है इसका कारण बुखार नहीं है इसका कारण ये दवाएं है ।बुखार होने के कई कारण है कई बार किसी चीज से इंफेक्शन से और कई बार मौसम बदलने के कारण बुखार हो जाता है |

 

Home Remedies of Feverआइये अब जानते है की बुखार से कैसे बिना किसी दुश्प्रभाव से निपटा जाये इसके लिए में निचे एक फार्मूला लिख रहा हूँ जिसको बुखार होते ही दे देना है ऐसा करने पर 3 दिन में ही बुखार ठीक हो जायेगा और आगे आसानी से होगा भी नहीं क्योंकि यह दवाई आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बाधा देती है |

 

 

 

दवाई के मुख्या घटक निचे दिए गए है जिन्हें आप किसी भी आयुर्वेद की दूकान से खरीद सकते है या फिर बैधनाथ के स्टोर ले ले सकते है |

 

•    गिलोय का चूर्ण    - 100 ग्राम 
•    आंवला का चूर्ण    - 100 ग्राम 
•    छोटी हरड़        - 100 ग्राम 
•    तुलसी का पाचांग  -100 ग्राम 
•    चरायता का चूर्ण   - 50 ग्राम 
•    अजवायन        -50 ग्राम 
•    मलॅठी           -20 ग्राम 
•    सौंठ            -20 ग्राम 
•    काली मिर्च       -10 ग्राम

 

सभी का चूर्ण बना ले और किसी कांच के डब्बे में मिलाकर रख ले ।
बुखार होने पर दिन मे 4 बार 2-2 ग्राम 3-3 घंटे के अंतर पर लेते रहे इसके साथ मे दुध भी जरूर ले और दूध में थोड़ी से हल्दी डाल कर पियें ।जब भी बुखार आये तो लगातार 3 दिन दवा ले अगर हैपेटाटस जैसा है तो दवाई को 21 दिन तक ले 
और 21 दिन के बाद टेस्ट जरूर करवा लें |


अगर बुखार तेज हो तो इस दवा के साथ मरीज के माथे पर ठंडे पानी में भीगी पट्टियां रखें और ये तबके तक करे जब तक शरीर का temprature कम ना हो जाए। पट्टी रखने के कुछ देर बाद गरम हो जाती है, ऐसे में थोड़ी देर बाद इसे फिर से पानी में भिगो कर सिर पर रखे।

 

बुखार में सावधानियां 


•    बहुत हल्का खाना खाएं 
•    पानी खूब पियें 
•    वायरल बुखार होने पर अपने कपडे अलग रखें और दुसरो के कपडे इस्तेमाल न करें 
•    बुखार में खूब आराम करें 
•    अधिक गर्मी या अधिक ठंडी जगह से बचे 
•    पानी को उबाल कर पियें यह RO/UV के पानी से भी अच्छा होता है 

 

Re: Consultation and best ayurveda products are available at https://www.storeayurveda.com/
  • By: Anonymous on 20.10.17

Comments

  • Reply: